About

जिस प्रकार षडज के बजने से गांधार स्‍वर जो उसी के अन्‍दर प्रतिष्ठित है सुनने वाले को अलग ही से सुनाई पड़ जाता है ठीक वैसे ही मेरे मन के विचार प्रगट होकर सुविज्ञ जनों तक पहुँचे। जिस प्रकार षडज के अन्‍दर बसे गांधार के दर्शन ज्ञानी कर लेते हैं वैसे ही मेरे आत्‍मघटक से निकले विचारों  का सेवन जिज्ञासु करेंगे ऐसी मुझे आशा है। यही है मेरा ‘षडजांतर’

5 responses to “About

  1. शैलेन्द्र पंडित

    ब्लॉग की दुनिया में आपकी आमद बहुत अच्छी है. ‘षडजांतर’ के बारे में सुन्दर जानकारी प्राप्त हुई. आगे आने वाले पोस्ट/लेखों की प्रतीक्षा रहेगी – समय निकाल कर लिखती रहें.

  2. शैलेन्द्र पंडित

    ब्लॉग की दुनिया में आपकी आमद बहुत अच्छी है. ‘षडजांतर’ के बारे में सुन्दर जानकारी प्राप्त हुई. आगे आने वाले पोस्ट/लेखों की प्रतीक्षा रहेगी. समय निकाल कर लिखती रहें.

  3. Chitra Manthan

    विषय को इस गम्भीरतासे लेने वाले औरलिखने वाले ही भारतीय ज्ञान को बचा पांएगे।

  4. Dr.Radhika Budhkar

    नमस्कार आपका ब्लॉग देखकर बहुत अच्छा लगा, आपके लेख अभी पढूंगी, पर सोचा इस ब्लॉग के लिए पहले बधाई दे दू. मैं स्वयं भी एक संगीत ब्लॉग (vaniveenapani.blogspot.com) चलाती हूँ. इसलिए आपका ब्लॉग देखकर खास ख़ुशी हुई.

  5. Wonderful effort, hope Hindustani music will enrich here

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s